औरतों को शिवलिंग छूना चाहिए या नहीं, जान ले असल वजह

औरतों को शिवलिंग छूना चाहिए या नहीं: आज हम इस विषय पर बात करेंगे कि क्या औरतों को शिवलिंग छूना चाहिए या नहीं, और किस परिस्थिति में महिलाएं शिवलिंग को छू सकती हैं। इस परंपरागत मान्यता के अनुसार, शिवलिंग की पूजा से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं और अपने भक्तों की सभी इच्छाएं पूरी करते हैं, इसलिए कई लोग शिवलिंग की पूजा करते हैं। कुछ महिलाएं अपनी मनोकामनाओं को पूरा करने के लिए शिवलिंग की पूजा करती हैं।

जब भी कोई महिला अपने शिव मंदिर में पूजा करती है, तो उसे यह सोचना चाहिए कि क्या उसे शिवलिंग को छूना चाहिए या नहीं। यह सवाल यह भी हो सकता है कि क्या औरतों को शिवलिंग छूना चाहिए या नहीं। और क्या गर्भवती महिलाओं को भगवान शिव के शिवलिंग को छूना चाहिए या नहीं। इस लेख में हम आपको इस संदर्भ में जानकारी देंगे।

ज्योतिषियों के अनुसार, महिलाओं को शिवलिंग को छूने की अनुमति नहीं होनी चाहिए, क्योंकि केवल माता पार्वती ही इसे छूने के योग्य मानी जाती हैं, और अगर कोई महिला शिवलिंग को छूती है तो इससे माता पार्वती खुश नहीं होती हैं। आप सभी महिलाओं को इसे करने से बचना चाहिए।

क्या अविवाहित औरतों को शिवलिंग छूना चाहिए या नहीं

हिन्दू धर्म और शास्त्रों के अनुसार, कुंवारी कन्याओं को शिवलिंग का स्पर्श नहीं करना चाहिए। यदि कोई अविवाहित कन्या शिवलिंग को स्पर्श करती है, तो इसे अशुभ माना जाता है। ऐसा नहीं करना चाहिए।

औरतों को शिवलिंग छूना चाहिए या नहीं
औरतों को शिवलिंग छूना चाहिए या नहीं

मां पार्वती हो जाती है नाराज़

शास्त्रों के अनुसार, भगवान शिव हमेशा ध्यान में रहते हैं, और अगर कोई महिला या कुंवारी कन्या शिवलिंग को छू लेती है, तो उनका ध्यान भटक जाता है और भगवान शिव नाराज हो सकते हैं। इसलिए किसी भी स्त्री या कुंवारी कन्या को शिवलिंग का स्पर्श नहीं करना चाहिए।

यदि कोई स्त्री या कुंवारी लड़की भगवान शिव की भक्ति में लगी है या उनकी पूजा करती है, तो उन्हें भगवान शिव के पूरे परिवार की पूजा करनी चाहिए। वे गणेश, पार्वती माता की पूजा भी कर सकती हैं। इससे उनको विशेष लाभ हो सकता है और उनके परिवार को भगवान का आशीर्वाद और सुख मिल सकता है।

महिलाएं शिवलिंग की पूजा कैसे कर सकती हैं?

शिवलिंग की पूजा स्त्री और पुरुष दोनों कर सकते हैं, लेकिन महिलाओं को एक बात का ख़ास ख्याल रखना चाहिए, वे कभी भी शिवलिंग को छूने से बचना चाहिए। यह माना जाता है कि मां पार्वती को महिलाओं का शिवलिंग को छूना बिल्कुल पसंद नहीं था।

जब भगवान शिव की पूजा करते हैं, तो कभी भी हल्दी नहीं चढ़ानी चाहिए। आप उन्हें अन्य पसंदीदा चीजों जैसे दूध, भांग, धतूरा, आक के फूल, शहद, बेलपत्र, आदि के रूप में अर्पित कर सकते हैं। हालांकि भगवान शिव को हल्दी चढ़ाना धार्मिक दृष्टि से अशुभ माना जाता है। इसलिए आपको इस से बचना चाहिए और इस पर विशेष ध्यान देना चाहिए। महिलाओं को अपने बालों को कभी भी खुला नहीं रखना चाहिए। इसे यह माना जाता है कि महिलाओं के बाल उनके चारों ओर नकारात्मक ऊर्जा को बढ़ावा देते हैं।

अब आपको इसके बारे में जानकारी हो गई होगी की औरतों को शिवलिंग छूना चाहिए या नहीं और साथ ही इनके कारणों का भी पता चल गया होगा।

ये भी पढ़े : धन माँ लक्ष्मी को आपके घर में बुलाने के टिप्स और उपाय, इन घरों से भी माँ लक्ष्मी रहती है दूर

Leave a Comment